एक करोड़ की चोरी के लिए बदमाशों ने एक महीने पहले से ही शुरू कर दी थी ट्रायल

जयपुर,,रामगंज थाना पुलिस ने एक करोड़ की चोरी के मामले का खुलासा करते हुए मुख्य सरगना सहित छह बदमाशों को दबोच लिया। पुलिस ने उनके कब्जे से चालीस किलो जेवरात भी बरामद किए हैं। पुलिस पूछताछ में सामने आया है कि बदमाशों ने एक महीने पहले ही चोरी करने के लिए ट्रायल शुरू कर दिया था। इसके लिए उन्होंने गद्दी और रास्ते का ना केवल वीडियो बनाया, बल्कि उस पर किस तरह अमल किया जाएगा, उस पर भी प्लानिंग कर ली गई थी डीसीपी नोर्थ पारिस देशमुख ने बताया कि पकड़े गए आरोपी जसीमुद्दीन उर्फ जसी उर्फ फारूख, सलीम टेंशन और इदरिश हुसैन रामगंज के रहने वाले है वहीं अमजद अंसारी खोह नागोरियान, मोहम्मद दानिश ट्रांसपोर्ट नगर और नईम वन विहार कॉलोनी गलता गेट का रहने वाला हैं पुलिस ने बताया कि 25 जुलाई को परिवादी राजेश मोदी की ओर से मुकदमा दर्ज कराया गया परिवादी ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसका फुटा खुर्रा रामगंज बाजार में जवाहारात का काम हैं। रात को 2 बदमाश उसके कार्यालय का ताला तोड़कर गद्दी से करीब 15 किलो चांदी के जेवर, कीमती ऐन्टीक सामान, जवाहारात, पन्ना, माणक, सेमी पिसेज व अन्य सामान चोरी कर ले गये जिनकी कीमत करीब एक करोड़ से ज्यादा है. बदमाशों ने वारदात के समय सीसीटीवी तोड़ दिए और डीवीआर भी चुरा ले गए हैं यह भी पढ़े : मध्यप्रदेश से डकैती डालने आए थे बदमाश, पुलिस ने पकड़ा तो थानाधिकारी पर तानी पिस्टल मोबाइल नम्बर बंद आए तो हुआ शक प्रकरण की गम्भीरता को देखते हुये डीसीपी नोर्थ पारिस देशमुख ने एडिश्नल डीसीपी सुमन चौधरी, एसीपी रामगंज सुनिल प्रसाद शर्मा, थानाधिकारी रामगंज भूरी सिंह के नेतृत्व में एक स्पेशल टीम गठित की गई। टीम की ओर से घटनास्थल के आस-पास व आरोपियों की ओर से उपयोग में लिये गये रास्ते के आधार पर सी.सी.टी.वी कैमरों के फुटेज खंगाले गए। पुलिस ने जब बीटीएस सीडीआर की जांच की तो कुछ नंबर घटना के बाद से ही बंद मिले। शक के आधार पर पुलिस ने कई जगह दबिश दी और नईम, जसीमुद्दीन और सलीम टेंशन को गिरफ्तार किया। तीनों मुल्जिमों से की गयी पूछताछ के आधार पर करीब 40 किलो जेवरात बरामद कर लिए गए। पुलिस ने आगे की जांच करते हुए चोरी का माल खरीदने वाले अमजद अंसारी, दानिश व इदरिश हुसैन को भी गिरफ्तार कर लिया यह भी पढ़े : नगर निगम ग्रेटर का मुख्य अग्निशमन अधिकारी और चालक गिरफ्तार एक महीने पहले से कर रहे थे रैकी बदमाशों से पूछताछ में सामने आया कि घटना से करीब एक महिने पहले घटनास्थल की रैकी कर रहे थे। आरोपी अमजद अंसारी 1 महिने पहले घटनास्थल पर जाकर चोरी करने के तरीके व चोरी करने के लिये गद्दी एवं रास्ते का वीडियों बनाकर ले गया था। इस वीडियों को दिखाकर उसने जसीमुद्दीन को चोरी करने के लिये तैयार किया और घटना से एक दिन पहले अमजद ने जसीमुद्दीन को ये गद्दी दिखाई। जसीमुदीन ने चोरी के लिये अपने साथी को भी वारदात में शामिल कर लिया. फारूख ने नईम को चोरी करने से पहले उस स्थान की रेकी करवाई जहां से चोरी करनी थी। उसके बाद रात करीब 2 बजे चोरी बदमाशों ने गद्दी पर जाकर सरियें से ताला तोड़ा सीसीटीवी कैमरे व डीवीआर तोड़ दिए। और जेवरात चुराकर मौके से फरार हो गए। वारदात के बाद बदमाश मुख्य सरगना अमजद अंसारी से जाकर मिले और सामान का बंटवारा किया

About Mohammad naim

एडिटर इन चीफ :- मोहम्मद नईम वन इंडिया न्यूज प्लस राजस्थान मोबाईल न. 7665865807-9024016743

Check Also

हैदराबाद ले जाने की फिराक में था दो करोड़ के जेवरात, जयपुर पुलिस ने दबोचा..

  सरिता सोनी (क्राइम रिपोर्टर)   जयपुर ब्रह्मपुरी,, थाना इलाके में स्थित एक जवाहरात की …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Live Updates COVID-19 CASES