विश्वविद्यालय एवं भारत सरकार के एआईसीटी संस्था के सहयोग से सेन्टर ऑफ एक्सीलेंस का उद्घाटन राज्यपाल के मुख्य विशेषाधिकारी गोविन्द राम जयसवाल के कर कमलों द्वारा किया गया

जयपुर शंकरा ग्रुप आफ इंस्टीट्यूशन के कूकस मैं सेंटर ऑफ एक्सीलेंस का हुआ उद्घाटन इस अवसर पर गोविन्द राम जयसवाल ने कहा कि आर्टिफिशियल इंटेलिजसी मशीनों द्वारा प्रदर्शित बुद्धिमता है पूर्व में इसका प्रयोग उन मशीनों का वर्णन करने के लिये किया जाता था जो मानव संज्ञानात्मक कौशल की नकल और प्रदर्शन करती है जो मानव मन से जुड़े होते है जैसे सीखना और समस्या समाधान | लेकिन वर्तमान में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंसी को तर्कसंगतता और तर्कसंगत रूप से कार्य करने के संदर्भ में किया जाने लगा है। बुद्धि को कैसे व्यक्त किया जाये इस हेतु आर्टिफिशियल इंटेलिजेंसी का प्रयोग किया जाने लगा है, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंसी का प्रारम्भ 1956 में हो चुका था लेकिन संसाधनों के अभाव में यह व्यापकता नहीं ले पाया। गोविन्द राम जयसवाल ने शंकरा ग्रुप में स्थिति कम्प्यूटर लैब तकनीकी संसाधन एवं सभी शिक्षक एवं कर्मचारियों की प्रशंसा करते हुये प्रसन्नता व्यक्त की और कहा कि इस संस्था को सेन्टर ऑफ एक्सीलेन्स” का हब बनाना हमारे लिये गौरव की बात है 21वीं शदी में जहां चारो और तकनीकी ज्ञान के माध्यम से स्टार्टप की बात चल रही है यही हमारे राज्यपाल कलराज मिश्रा भी छात्र छात्राओं को रोजगार प्रदाता के रूप में देखते है तो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंसी की आवश्यकता अधिक होने लगी है इसी को ध्यान में रखते हुये शंकरा ग्रुप के अध्यक्ष डॉ संतकुमार चौधरी द्वारा तकनीकी सुविधाओं से युक्त परिसर उपलब्ध करवा कर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंसी हब की शुरुआत की जिसमें राजस्थान के सभी तकनीकी महाविद्यालय एवं विश्वविद्यालय के छात्र एवं छात्रा भाग ले कर इसका लाभ उठा पायेगे। जिसमें गणित, तर्क, नेटवर्किंग एवं अर्थशास्त्र पर आधारित विषयों का ज्ञान प्रदान किया जायेगा अध्यक्ष डा, एस, के चौधरी ने सभी उपस्थित छात्र छात्राओं को आहवान करते हुये कहा कि आज का युग यंत्र का युग है इसमें प्राप्त करने के लिए नवाचारा एवं नवीनतकनीकी की आवश्यकता होती है और इस हेतु सुपर कम्प्यूटर की आवश्यकता होगी जो भारत सरकार एवं राज्यसरकार के सहयोग से उपलब्धि हो पायेगी। हमारा मिशन है नवाचार के माध्यम से पेशेवरों को तकनीकी रूप से सक्षम बनाना और सामाजिक रूप से जिम्मेदार बनाना है। समाधानों का विश्लेषण डिजाइन और कार्यान्वयन करना और उन्हें अनुकूलित करना हमारा मुख्य उद्देश्य है। ‘सेन्टर ऑफ एक्सीलेन्स को प्राप्त कर संस्थान के सभी अधिकारी, शिक्षक एवं कर्मचारियों में खुशी की लहर देखी जा रही है।

About Mohammad naim

एडिटर इन चीफ :- मोहम्मद नईम वन इंडिया न्यूज प्लस राजस्थान मोबाईल न. 7665865807-9024016743

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Live Updates COVID-19 CASES