जुर्म साबित नही होने पर अभियुक्त को न्यायालय ने किया दोषमुक्त

जयपुर,, जगतपुरा इंदिरा गांधी नगर में स्थित एक मकान में वर्ष 2015 को चोरी की वारदात हुई थी। जिसमें सभी परिवार जन किसी पारिवारिक काम से उत्तर प्रदेश गए हुए थे ,सुना मकान देख चोरी की वारदात को अंजाम दिया गया जिस पर सन 2015 में थाने में रिपोर्ट भी दर्ज हुई और जाँच की गई। अभियुक्त को धारा 454 और 380 के तहत गिरफ्तार किया। अभियुक्त सुरेश उर्फ कालिया को कोर्ट ने आदतन अपराधी रिकॉर्ड के आधार पर अन्य मामलो के साथ इसमे भी कारागृह भेजा गया । इस पर 6 वर्ष बाद न्यायालय में गवाह,बयान के बाद अंतिम निर्णय किया इसमें अभियुक्त सुरेश उस कालिया की ओर से अधिवक्ता हितेष बागड़ी ने मामले की पैरवी करते हुए न्यायालय को बताया कि चोरी की वारदात में चोरी किए गए सामानों में से कोई भी सामान अभियुक्त की गिरफ्तारी के समय उसके पास से बरामद नहीं हुआ चोरी की घटना, गिरफ्तारी व गवाहों की दृष्टि से मामला कई बिंदुओं को दर्शाता है क्योंकि गवाह अलग अलग कथनों को दर्शाते हैं ,साथ ही ना साक्ष्य में कही भी , परिलक्षित नहीं हुआ कि चोरी की घटना से उस अभियुक्त का संबंध है उक्त मामले को जिला एवं सत्र न्यायालय जयपुर, जिला जयपुर ने गंभीरता से सुनते हुए अभियुक्तों को आरोप का संदेश से परे साबित नहीं होने से दोषमुक्त घोषित करने का आदेश पारित किया

About Mohammad naim

एडिटर इन चीफ :- मोहम्मद नईम वन इंडिया न्यूज प्लस राजस्थान मोबाईल न. 7665865807-9024016743

Check Also

तीन तलाक बोलने वाला गिरफ्तार शादी के साढे 6साल बाद बोला पत्नी को तीन बार तलाक,लोवर और सैशन कोर्ट कर चुके जमानत खारीज

जयपुर,, झोटवाड़ा थाना के क्षेत्र मे शादी के साढे 6साल बाद एक युवक ने अपनी …

Live Updates COVID-19 CASES