चारों अपराधी जयपुर शहर में सोहेल खान हसनपुरा गैंग के नाम के है सदस्

स्वीटी अग्रवाल (संवाददाता मनोहरपुर)

मनोहरपुर,,थाना पुलिस ने अपराधियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए मंगलवार देर रात को कस्बे के एक मैरिज गार्डन से आपराधिक गैंग से जुड़े 4 बदमाश को गिरफ्तार किया है। आरोपियों से पुलिस ने एक पिस्टल, दो देसी कट्टा, व आठ कारतूस सहित एक ब्रेज़ा कार भी जप्त की। मनोहरपुर थाना प्रभारी मनीष कुमार शर्मा ने बताया कि गश्त के दौरान मंगलवार शाम को जयपुर पश्चिम शहर के कांस्टेबल भरत सिंह ने सूचना दी कि जयपुर शहर में फायरिंग में वांछित मुल्जिमान की लोकेशन मनोहरपुर कस्बे के पास आ रही है। इस पर मनोहरपुर थाना प्रभारी ने अपराधियों की लोकेशन ट्रेस की तो पता चला कि मनोहरपुर दौसा बायपास के आसपास अपराधिक लोग है। इस पर आसपास के क्षेत्र में पता किया तो पता चला कि मनोहरपुर के एक मैरिज गार्डन में ठहरे हुए हैं। जैसे ही पुलिस टीम मैरिज गार्डन के बाहर पहुंची तो आरोपी मैरिज गार्डन के लोन से उठकर अचानक बाहर खड़ी ब्रेजा कार की तरफ दौड़े। उनमें से एक शख्स ने देसी पिस्टल से पुलिस पर फायर कर दिया। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी फायरिंग की। पुलिस की मुस्तैदी के चलते मौके से ही चारों आरोपी दबोच लिए गए। पुलिस ने चारों से एक पिस्टल, दो देसी कट्टा, 8 जिंदा कारतूस बरामद किए। सोहेल खान हसनपुरा गैंग के सदस्य पुलिस द्वारा पकड़े गए चारों अपराधिक लोग जयपुर की सोहेल खान हसनपुरा गैंग व तलवार गैंग के बीच आपस में रंजिश चल रही है। आरोपी जयपुर शहर में विभिन्न थानों में फायरिंग व अन्य वारदातों की घटनाओं में वांछित चल रहा है(यह आरोपी हुए गिरफ्तार)1सोहेल खान पुत्र वसीउला खान उम्र 28, निवासी रॉयल कॉलोनी शिव मंदिर के पास हसनपुरा जयपुर, 2. मोहम्मद सलमान पुत्र शहजाद अली उम्र (20) निवासी मेहनत नगर हटवाड़ा केबी खातीपुरा रोड सोडाला जयपुर। 3. गौतम सिंह पुत्र राम अवतार सिंह जाति राजपूत 29 वर्ष निवासी महरौली थाना श्रीमाधोपुर, 4. वसीम अहमद पुत्र नवाब का जाति मुसलमान उम्र (33) निवासी नारी का नाका मस्जिद के पास शास्त्री नगर जयपुर (कई मामले चल रहे है विचारधीन..) गिरफ्तार आरोपी सोहेल खान के खिलाफ जयपुर के सदर थाना, सुभाष चौक, श्याम नगर, कोतवाली थाना, आमेर में करीब 8 मामले। मोहम्मद सलमान के खिलाफ जयपुर के कोतवाली सदर थाना व सोडाला थाने में करीब 5 मामले। वसीम के जयपुर शहर के विभिन्न थानों में 13 मामले। आर्म्स एक्ट, लड़ाई झगड़े, मारपीट सहित कई आपराधिक प्रवृति के विचाराधीन चल रहे हैं।