(मोहम्मद नईम)

मनोहरपुर,,स्थानीय ग्राम पंचायत की अनियमितताएं व मनमानी के विरोध में चार दिन से चल रहे सांकेतिक धरना गुरुवार को पंचायत समिति के अतिरिक्त विकास अधिकारी राजेश शर्मा वह पंचायत समिति की समझाइश के बाद 10 बिंदुओं पर सहमति बनने के बाद धरना समाप्त कर दिया गया जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत के माधोवेणी नदी में कचरा डालने, कोरम की बैठक में प्रस्ताव लिए बिना मनमर्जी से विकास कार्य कराने, पूर्व सरपंच के समय में बनाई गई सड़कों की मियाद खत्म होने से पहले ही के स्थान पर दूसरी सड़क बनाने सहित कई समस्याओं को लेकर सामाजिक कार्यकर्ता संपूर्णानंद शर्मा व अन्य के द्वारा ग्राम पंचायत परिसर में चार दिन से धरना दिया जा रहा था। धरना समाप्त कराने के लिए ग्राम पंचायत के आठ सदस्य कमेटी और पंचायत समिति की टीम द्वारा प्रयास किए जा रहे थे। इसी क्रम मे गुरुवार को करीब 1बजे शाहपुरा पंचायत समिति के अतिरिक्त विकास अधिकारी राजेश शर्मा के नेतृत्व में एक टीम पंचायत परिसर पहुंची जहां पंचायत की गठित टीम के साथ धरना दे रहे लोगों से वार्ता शुरू की गई। वार्ता के दौरान नदी क्षेत्र में डाला जा रहा कचरा व पूर्व में डाल गया कचरे का 10 दिन में रेत डालकर निस्तारण करने, कचरा निस्तारण के लिए जमीन आवंटन हेतु उच्च अधिकारियों को 3 दिन में पत्र लिखने, पूर्व में विचाराधीन पट्टा पत्रवालियों में से प्रतिदिन 10 पट्टा पत्रावलीओं का निस्तारण करने, विचाराधीन पट्टा पत्रवालियों के प्रार्थियों को सूचित करने के लिए दैनिक समाचार पत्र में 5 दिवस में विज्ञप्ति निकालने, पूर्व में जिनकी विज्ञप्ति निकल चुकी है उनका भी पट्टा नियमानुसार जारी करने, चार्ज लिस्ट के अनुसार जो पूर्व में गायब हुई पट्टा पत्रावलीया है उसके लिए तत्कालीन सरपंच सचिव के खिलाफ कार्रवाई हेतु विभागीय अधिकारियों को 10 दिन में पत्र जारी करने जाएगा, पट्टों का नवीनिकरण के लिए कमेटी बनाने, ग्राम पंचायत के प्रमुख मार्गो पर कैमरे लगाने के लिए पंचायत समिति की साधारण सभा में विकास अधिकारी पंचायत समिति शाहपुरा को अवगत करवाने, बस स्टैंड से गांधी चौक तक पूर्व में चिन्हित अतिक्रमण के विरुद्ध 10 दिन में गठित कमेटी द्वारा नोटिस जारी कर अतिक्रमण हटाने के लिए आवश्यक कार्रवाई करने सहित 10 मांगों पर सहमति बनी । जिसके बाद धरना दे रहे लोगों ने धरना समाप्त करने की घोषणा की। जिसके बाद लिखित में समझौता किया गया। जिसके बाद पंचायत की ओर से धरना दे रहे समाजसेवी संपूर्णानंद शर्मा, महिपाल गुर्जर आदि को जूस पिलाकर धरना समाप्त करवाया गया। इस दौरान सरपंच सुनीता प्रजापत,उपेंद्र आत्रेय, मोहन संतका, रामेश्वर बुनकर, राकेश सैनी, शंकर प्रजापत, सलीम खान, अशोक व्यास, कृष्ण कुमार वर्मा, महिपाल सिंह गुर्जर, मनीष कुमावत, मोहसीन खान,मनीष आत्रेय मौजूद रहे रिकॉर्ड का हो भौतिक सत्यापन धरना दे रहे लोगों ने तत्कालीन नगरपालिका व ग्राम पंचायत के रिकॉर्ड के संबंध में भौतिक सत्यापन हेतु उच्च अधिकारियों को 3 दिवस के अंदर पत्र जारी करने व ग्राम पंचायत मनोहरपुर द्वारा स्थानीय निधि अंकेक्षण विभाग द्वारा ऑडिट करवाने के लिए विकास अधिकारी पंचायत समिति शाहपुरा को 2 दिन में पत्र प्रेषित करने का निर्णय लिया गया समझौते पर कार्रवाई नहीं तो 10 दिन बाद फिर होगा अनशन धरना दे रहे सामाजिक कार्यकर्ता संपूर्णानंद शर्मा ने बताया कि 10 दिवस में नियम अनुसार समझौते पर कार्यवाही नहीं की गई तो ग्रामीण और ग्राम पंचायत मनोहरपुर सरपंच द्वारा बनाई गई कमेटी भी पुनः धरना देगे व अनशन करेंगे विकास अधिकारी द्वारा बनाई गई कमेटी में ये रहे मौजूद बीडीओ द्वारा बनाई गई कमेटी में सहायक अभियन्ता राजेश कुमार गुप्ता, सहायक विकास अधिकारी मुकेश कुमार शर्मा, सहायक विकास अधिकारी भोलाराम जाट मौजूद रहे