मोहम्मद हनीफ (संवाददाता)
शाहपुरा, कस्बा स्थित वार्ड नंबर 18 मोहल्ला बाछड़ी की नवविवाहित बालिकाएं डीजे की धुनों पर नाचते गाते पक्की गणगौर व ईश्वर लाने के लिए कुंभकार के घर पहुंचे इसके साथ ही आज से बालिकाएं गणगौर महोत्सव तक शाम को रोज बान के रूप में ईसर गणगौर की पूजा करके एक दूसरे के घरों में जाएंगी और विभिन्न प्रकार की मिठाइयों का सेवन करेंगी सामाजिक कार्यकर्ता राजेश मंडोवरा व वार्ड नंबर 18 के पार्षद पुनीत कुमार भगेरिया ने बताया कि धूलंडी के दिन से नवविवाहित महिलाएं व बालिकाएं अलसुबह उठ कर 16 दिन तक विभिन्न जगहों का जल लाकर गणगौर और ईशर को स्नान कराती है और 16 दिन गणगौर महोत्सव पर गणगौर को कुवे व जलाशयों में डालकर गणगौर महोत्सव का समापन करती है नव विवाहित महिला अनु मंडोवरा ने बताया कि नई शादी हुई महिलाएं सोलह श्रंगार करके गणगौर महोत्सव मनाते हैं इस दिन महिलाएं छोटी बच्ची को ईश्वर गणगौर की पोशाक पहनाकर डीजे की धुनों पर नाचती गाती हैं और महोत्सव का आनंद लेती है इस दौरान वार्ड नंबर 18 के पार्षद पुनीत कुमार भगेरिया के द्वारा सभी महिलाओं के लिए जलपान की व्यवस्था करके उनका स्वागत किया गया और सभी गणगौर पूजने वाली महिलाओं और बालिकाओं को वार्ड पार्षद पुनीत कुमार भगेरिया के द्वारा उपहार में भेंट किए जाएंगे