जयपुर के रईस चोर, बीएमडब्लू कार से करते थे रैकी, वारदात के बाद उसी से हो जाते फरार आरोपियों के खिलाफ चोरी,

नकबजनी और अवैध हथियार के 34 मामले दर्ज, एक लक्जरी कार सहित तीन चौपहिया और दो दुपहिया वाहन बरामद

जयपुर,, विद्याधर नगर थाना पुलिस ने तीन शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया हैं। गिरफ्तार बदमाश लग्जरी कार बीएमडब्ल्यू से पहले वाहनों की रैकी करते फिर मौका मिलने पर वाहन चोरी कर लेते। महंगी कार होने के कारण उन पर कोई शक भी नहीं करता था।पुलिस ने धर्मेन्द्र कुमार सामोता उर्फ धर्मा निवासी गांव नीम की ढाणी बामलास झुंझुनु जो अभी निवाई नवलगढ़ झुुंझुनूं , गैंग का लीडर रघूवीर सिंह राठौड़ निवासी लगौड थाना डेगाना जिला नागौर हाल वैशाली नगर जयपुर और अब्दुल शकूर विद्याधर नगर निवासी को गिरफ्तार किया इनसे एक लक्जरी कार सहित तीन चौपहिया और दो दुपहिया वाहन बरामद हुए हैं आरोपियों के खिलाफ चोरी, नकबजनी और अवैध हथियार के 34 मामले दर्ज हैं पुलिस उपायुक्त उत्तर परिस देशमुख ने बताया कि क्षेत्र में वाहन चोरी की कई वारदातें हो रही थी इस पर रोकथाम के लिए टीम को गठन किया गया था। गिरोह ने 17 जून को विद्याधर नगर सेक्टर 3 से पिकअप चुराई थी। इस पर टीम ने वारदात स्थल पर 40 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाल कर बदमाशों की पहचान की विद्याधर नगर थाना पुलिस ने इलाके में चौपहिया वाहन चुराकर उनके चैचिस नंबर बदलकर बेचने वाले गिरोह का खुलासा करते हुए सरगना व साथी को पकड़ लिया सरगना रघुवीर सिंह के खिलाफ 23 व धर्मेद्र कुमार के खिलाफ 10 आपराधिक प्रकरण दर्ज है पुलिस ने जांच के बाद विद्याधर नगर से गाड़ी चुराने वाले शकूर को भी पकड़ लिया।बीएमडब्ल्यू से रैकी एसएचओ कुरील ने बताया कि पुलिस को गुमराह करने के लिए सरगना रघुवीर खुद की बीएमडब्ल्यू कार से रैकी करता था इस वजह से उन पर कोई शक नहीं करना था। टारगेट तय करने के बाद उसके बाद साथी गाड़ी चुराकर भागते थे। गिरफ्तार सरगना रघुवीर ने कुछ समय पहले बीएमडब्ल्यू को बेचने की बात कही है, जिसकी पुलिस तस्दीक कर रही है।बदलते थे चेसिस नंबर अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त उत्तर धर्मेंद्र सागर ने बताया कि आरोपी चोरी के वाहन को वैशाली नगर स्थित कारखाने में खड़ी कर उसका इंजन और चेचिस नम्बर बदल दिया करते थे इसके लिए ग्लाइंडर से चैचिस नंबर घसीटकर डाई से नया नंबर लिख देते थे आरोपियों के पास 0 से 9 नंबर और ए से जेड तक के अक्षरों की डाई मिली है। कबाड़ी वालों की रैकी करके कटने वाले गाड़ी के चैचिस नंबर लगा देते थे। जिसके बाद इन दोपहिया वाहनों को बेच दिया करते थे

About Mohammad naim

एडिटर इन चीफ :- मोहम्मद नईम वन इंडिया न्यूज प्लस राजस्थान मोबाईल न. 7665865807-9024016743

Check Also

खंडेला में कॉलेज के पास लावारिस हालत में मिली स्कॉर्पियो कार

            नाकाबंदी के डर व ईंधन बीत जाने से कॉलेज …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Live Updates COVID-19 CASES