कोविड स्वास्थ्य सहायक भर्ती का मानदेय बढ़ाने और शेष जिलों का परिणाम जारी करने के लिए दिया ज्ञापन

जयपुर,,ऑल इंडिया मेडिकल स्टूडेंट एसोसिएशन के प्रदेश सचिव मोहनलाल शर्मा ने बताया कि हाल ही में पिछले माह मई में राज्य सरकार द्वारा 25000 कोविड स्वास्थ्य सहायक की भर्ती की घोषणा की गई थी इस भर्ती में जिले के अनुसार सभी जिलों में भर्ती की विज्ञप्ति जारी की गई । सभी जिलों में कोविड स्वास्थ्य सहायक भर्ती के फार्म भरवाए गए। जिसमें से 16 से 17 जिलों में चयनित अभ्यर्थियों का परिणाम जारी किया जा चुका है व 5 से 6 जिलों में अभी तक जॉइनिंग के आदेश भी जारी हो चुके हैं परंतु बहुत से जिलों में अभी तक चयनित सूची व परिणाम जारी नहीं कीया गया है जबकि फॉर्म भरवाए हुए 25 दिन से अधिक हो गया है  परिणाम की देरी की वजह से अभ्यर्थियों में आक्रोश है  भर्ती का जल्द से जल्द परिणाम जारी करके कोविड स्वास्थ्य सहायक अभ्यर्थियों को ग्रामीण क्षेत्र में तैनात किया जाएं जिससे कोरोना महामारी से लड़ने में आसानी रहे माननीय मुख्यमंत्री एवं चिकित्सा मंत्री को ज्ञापन लिखकर मांग की है कि अलवर और अजमेर जिले के अभ्यर्थियों के द्वारा बॉन्ड भरवाया जा रहा है। जबकि अन्य जिलों में बिना बॉन्ड के जॉइनिग दी जा चुकी ह । अत: अलवर व अजमेर जिले में बिना बॉन्ड भरवाए जोइनिंग दी जाए। और जयपुर सहित बाकी अन्य जिलों की मेरिट सूची जारी कर जल्द से जल्द अभ्यर्थियों को तुरंत प्रभाव से जॉइनिंग दी जाए एसोसिएशन के प्रदेश सचिव मोहन लाल शर्मा का कहना है कि चिकित्सा मंत्री महोदय ने 12 मई को नर्सेज दिवस पर नर्सेज का पदनाम बदल कर नर्सिंग ऑफिसर नाम दिया गया। नर्सिंग कर्मियों का पदनाम नर्सिंग ऑफिसर होने के बाद भी अभ्यर्थियों को ₹7900मानदेय दिया जा रहा है यह बहुत ही निंदनीय बात है जबकि हाल ही में घोषणा की गई कंप्यूटर शिक्षक सहायक भर्ती संविदा कर्मियों को 18500 मानदेय देने की घोषणा आपके द्वारा की गई है जबकि नर्सिंग कर्मी 2 साल से इस कोरॉना काल में अपनी जान जोखिम में डालकर पिछले दो साल से लगातार अपनी सेवाए दे रहे हैं।
चीकीत्सा मंत्री महोदय से निवेदन है कि नर्सिंग कर्मियों का मानदेय ₹7900 से बढ़ाकर 26500 किया जाए जिससे कि नर्सिंग कर्मियों का मानसिक और आर्थिक रूप से शोषण ना हो अभ्यर्थियों का ₹7900 के अंदर घर से दूर रहकर गुजारा करना भी बहुत मुश्किल हो पाता है जबकि कोरोना काल के अंदर इन्फेक्शन का सबसे ज्यादा खतरा नर्सिंग कर्मियों को रहता है फिर भी नर्सिंग कर्मी साथी दिन रात अपनी सेवाएं लगातार राजस्थान सरकार को दे रहे हैं अतः निवेदन है कि जल्द से जल्द नर्सिंग अभ्यर्थियों का मानदेय बढ़ाकर कोविड स्वास्थ्य सहायक भर्ती में बाकी अन्य जिलों का भी परिणाम जल्द से जल्द जारी किया जाए जिससे कि ग्रामीण क्षेत्रों के अंदर स्वास्थ्य में सुधार हो और स्वास्थ्य के सिस्टम को बढ़ावा मिल सके।
मानदेय नहीं बढ़ाने से नर्सिंग अभ्यर्थियों में काफी रोष है कंप्यूटर शिक्षक सहायक भर्ती की तर्ज पर अभ्यर्थियों को कोरोना फ्रंटलाइन वर्कर और नर्सिंग ऑफिसर आधार पर जल्द से जल्द 26500 सैलरी की जाए बाकी जिलों के अंदर अभी तक परिणाम जारी नहीं हुआ उनका परिणाम जारी किया जाए नहीं तो अभ्यर्थियों को जयपुर के अंदर अनिश्चितकालीन धरना किया जाएगा।

About Mohammad naim

एडिटर इन चीफ :- मोहम्मद नईम वन इंडिया न्यूज प्लस राजस्थान मोबाईल न. 7665865807-9024016743

Check Also

कावंटिया में भी बच्चों को लगाई वैक्सीन

जयपुर शास्त्रीनगर स्थित हरिबक्स कावंटिया अस्पताल में भी 12 से 14 आयु वर्ग के बच्चों …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Live Updates COVID-19 CASES