जयपुर,,गलता गेट थाना पुलिस ने हत्या के प्रयास के अलग अलग प्रकरणों में हार्डकोर बदमाश सहित तीन जनों को पकड़ा हैं। पुलिस ने आर्म्स एक्ट के मामले में भी एक आरोपी को पकड़ा हैं। पुलिस उनसे पूछताछ कर रही हैं डीसीपी (उत्तर) परिस देशमुख ने बताया कि 16 जुलाई को परिवादी सलीम बेग वन विहार कॉलोनी गलता गेट ने थाने में मामला दर्ज करवाया। जिसमें बताया कि 15 जुलाई की रात को वह अमीरुदीन अंसारी और इब्राहीम बेग से बात कर रहे थे। गली में फारूख का लड़का कालू और उसका दोस्त सैफ अली और इनका ही परिचित लड़का तीनों गली में खड़े होकर अन्य बाहर के लड़कों को नशीला सामान बेच रहा था। टोका तो वह 16 जुलाई को दोनों लड़के वसीम बैग, शाहिद बैग और उस पर चाकू से लाठी से हमला कर दिया। इसी तरह परिवादी शब्बीर साबरी ने थाने में मामला दर्ज करवाया। कि वह 31 जुलाई को बास की पुलिया पर कुर्तियों का माल दिखाने गया था, तभी एक व्यक्ति तलवार लेकर आया और उस पर हमला कर दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु की। पुलिस को 7 अगस्त को मुखबिर से सूचना मिली थी कि एक व्यक्ति जो मदीन मस्जिद के पास वन विहार में चाकू लेकर घूम रहा है। बदमाश प्रवृत्ति का है और कोई वारदात कर सकता हैं। इस पर पुलिस ने चाकू लेकर घूम रहे आरोपी को गिरफ्तार कर लिया यह हुए गिरफ्तार पुलिस ने बताया कि आरोपी फतेह हैदर उर्फ भूरिया उर्फ कालिया वन विहार कच्ची बस्ती गलता गेट, हनीफ उर्फ रानू चौकड़ी गंगापाल रामगंज हाल कसाईयो की मोरी गलता गेट हाल बांदरी का नासिक सुभाष चौक और नदीम हाउसिंग बोर्ड वन विहार कॉलोनी मदीना मस्जिद के पीछे गलता गेट को गिरफ्तार कर लिया इस तरह करते थे वारदात पुलिस ने बताया कि पकड़ा गया आरोपी फतेह हैदर उर्फ भूरिया उर्फ कालिया और उसका साथी सैफ अली स्मैक का नशा करने के आदि है। जो मोहल्ले में आकर नशा करते थे और मोहल्ले के युवाओं को नशे की लत के लिए प्रेरित करते थे। स्थानीय लोग और परिवादी ने विरोध किया तो उसे सबक सिखाने के लिए वारदात को अंजाम दिया। हनीफ उर्फ राजू थाने का हार्डकोर अपराधी है जिसने पैसे मांगने की बात को लेकर इलाके में दहशत फैलाने के लिए परिवादी के उपर तलवार से वार कर वारदात को अंजाम दिया। अनुसंधान में सामने आया कि आरोपी नदीम का किसी के साथ झगड़ा हो गया था। आपसी रजिंश के कारण और लोगों में भय उत्पन्न करने के लिए चाकू लेकर घूम रहा था।