जयपुर,, नगर निगम ग्रेटर मेयर डॉ.सौम्या गुर्जर को बर्खास्तगी नोटिस मामले में जवाब देने के लिए स्वायत्त शासन विभाग ने सात दिन का अतिरिक्त समय दिया है। दो दिन पहले डॉ.सौम्या ने डीएलबी दफ्तर पहुंचकर जवाब के लिए 30 दिन का समय मांगा था, लेकिन सरकार ने 7 दिन का अतिरिक्त समय दिया है। गुर्जर को आज ही जवाब देना था, उससे पहले ही डीएलबी ने सात दिन का अतिरिक्त समय देने का आदेश जारी कर दिया। अब गुर्जर 25 नवंबर तक अपना जवाब पेश कर सकेंगी गुर्जर ने दो दिन पहले डीएलबी पहुंचकर ज्ञापन दिया था कि सरकार ने हाईकोर्ट ने मेरी रिट पिटिशन का निस्तारण करते हुए 10 नवंबर को आदेश दिया था। विमला व्यास के निर्णय में नोटिस प्राप्ति से 30 दिन का समय दिए जाने का आदेश दिया गया है। सरकार ने खुद इस निर्णय के अनुसरण में ही मुझे पद से हटाने व अयोग्य घोषित करने का पुराने आदेश को विड्रॉ करने का कथन किया है इसलिए मुझे जवाब के लिए 30 दिन का समय दिया जाए। इस पर डीएलबी ने जवाब के लिए तीस की बजाय 7 दिन का अतिरिक्त समय महापौर को दिया है आपको बता दें कि हाईकोर्ट के सरकार के बर्खास्तगी आदेश को रद्द करते हुए फ्रेश आदेश जारी करने के निर्देश डीएलबी को दिए थे, जिसके बाद डीएलबी ने यह नोटिस जारी किया था