करीब एक माह पहले पुरानी कंपनी की जगह नई कंपनी के कार्य ग्रहण करने पर हटाए गए थे कर्मचारी

स्वीटी अग्रवाल (संवाददाता मनोहरपुर)

मनोहरपुर टोल प्लाजा से हटाए गए कार्मिकों ने करीब 1 माह बाद भी बकाया वेतन नहीं मिलने पर एनएचएआई एवं पीसीईपीएल के खिलाफ रोष जताया है कार्मिकों ने उपखंड अधिकारी को ज्ञापन सौंप करें 4 माह का बकाया वेतन दिलाने की मांग की है गौरतलब है कि टोल प्लाजा पर 3 जून शुक्रवार से नई कंपनी डीएसएसजी इंफ्रा प्राइवेट कंपनी ने कार्य करना शुरू कर दिया । इससे पीसीपीएल कंपनी की ओर से लगाए गए कई कार्मिकों को कार्य से हटा दिया गया था। उस समय कर्मचारियों का 4 माह का वेतन बकाया चल रहा था। जिस पर कार्मिकों ने विरोध प्रदर्शन कर रोष जताया था । विरोध प्रदर्शन के दौरान एनएचएआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर अजय आर्य ने मौके पर आकर कार्मिकों को एक माह में वेतन दिलवाने का आश्वासन दिया था। तब कार्मिकों का गुस्सा शांत हुआ था। किंतु करीब 1 माह से अधिक समय गुजर जाने के बाद भी हटाए गए कार्मिकों को 4 माह का बताया बकाया वेतन नहीं मिला है। जिसके चलते कार्मिकों ने शाहपुरा उपखंड अधिकारी मनमोहन मीणा को ज्ञापन सौंपा कर बकाया वेतन दिलाने की मांग की है। कर्मचारियों ने बताया कि हमारी मांगे नहीं मानी जाती है और टोल प्लाजा पर धरना प्रदर्शन किया जाएगा ।इस मौके पर खुशवंत सिंह, महेश देवंदा, रमेश गुर्जर, शक्ति सिंह, राजेंद्र सिंह, दिनेश कुमार जाट, विजय कुमार जाट, मुकेश रुंडला,प्रकाश गढ़वाल, पूरणमल ,ग्यारसी लाल, महेंद्र यादव सहित अन्य कार्मिक मौजूद रहे।